राम मंदिर निर्माण: अयोध्या में भूमि पूजन के अवसर पर अमेरिका में होगी ऑनलाइन राष्ट्रीय प्रार्थना | america – News in Hindi

0
3

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का उद्घाटन 5 अगस्त को होना है

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण (Ram Temple) के लिए होने वाले भूमि पूजन के अवसर पर उत्तर अमेरिका के हिंदू मंदिरों में ऑनलाइन राष्ट्रीय प्रार्थना (Online National Anthem) का आयोजन किया जाएगा.

वाशिंगटन. अयोध्या में राम मंदिर निर्माण (Ram Temple) के लिए होने वाले भूमि पूजन के अवसर पर उत्तर अमेरिका के हिंदू मंदिरों में ऑनलाइन राष्ट्रीय प्रार्थना (Online National Anthem) का आयोजन किया जाएगा. धार्मिक समूहों ने यह जानकारी दी. हिंदू मंदिर एग्जिक्यूटिव्ज कॉन्फ्रेंस (HMEC) और हिंदू मंदिर प्रीस्ट्स कॉन्फ्रेंस (एचएमपीसी) ने शुक्रवार को एक वक्तव्य जारी कर अयोध्या में होने वाले ‘श्री राम मंदिर भूमि पूजन’ के अवसर पर पूरे अमेरिका में एक साथ राष्ट्रीय प्रार्थना करने का आह्वान किया.

ये देश राम के ‘चरणकमल’ में सेवा देंगे

इसमें कहा गया कि इस शुभ अवसर पर अमेरिका, कनाडा और कैरिबियाई द्वीपों के मंदिर भूमि पूजन की पूर्व संध्या पर भगवान राम के ‘चरणकमल’ में सेवा देंगे. कैलिफोर्निया के बे इलाके में शिव दुर्गा मंदिर के संस्थापक, अध्यक्ष एवं आचार्य पंडित कृष्ण कुमार पांडेय ने कहा कि ‘वैश्विक हिंदू समुदाय के लिए पांच अगस्त 2020 का ऐतिहासिक समारोह नए युग की शुरुआत है। हमें इस दिन को अब से एक त्योहार के रूप में मनाना चाहिए.’

ये भी पढ़ें: ब्रिटेन: रेस्टोरेंट में खाने खर्च का हुआ आधा, 50% बिल सरकार भरेगीचीनी आक्रामकता के खिलाफ भारत के लिए अमेरिका में बढ़ रहा है दोनों दलों का समर्थन

बुरे दौर में अमेरिकी अर्थव्यवस्था: GDP में 33% की गिरावट, बेरोजारी बढ़कर 14.7 फीसदी हुई

COVID-19: ब्रिटिश-अमेरिकन कंपनी तंबाकू की पत्तियों से बना रही है वैक्सीन, ह्यूमन ट्रायल जल्द

अमेरिका में विश्व हिंदू परिषद ने कहा कि पांच अगस्त को जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में मंदिर की आधारशिला रखेंगे तब उस अवसर पर प्रार्थनाओं का आयोजन किया जाएगा. उत्तर अमेरिका में सामूहिक मंत्रोच्चारण होगा, जिसके बाद अनूप जलोटा और संजीवनी भेलांडे का भजन सुना जाएगा.

मुस्लिम युवती ने बनाया परमानेंट टैटू

भारत में राम मंदिर को लेकर ऐसी दीवानगी छाई हुई है कि लोग अपनी आस्था प्रकट करने के लिए बहुत कुछ कर रहे हैं. धर्म नगरी वाराणसी में भी राम भक्त अलग-अलग तरीके से इस दिन को यादगार बनाने में जुटे हैं. इस दौरान एक राम भक्त मुस्लिम युवती ने गंगा जमुनी तहजीब का उदाहरण पेश किया है. दरअसल इस युवती ने एकता का मिसाल देने के लिए अपने हाथ पर श्रीराम के नाम का स्थायी यानी परमानेंट टैटू बनवाया है.

Source

कोई जवाब दें

कृपया अपनी टिप्पणी दर्ज करें!
कृपया अपना नाम यहाँ दर्ज करें